1100 वर्ष पुराने नीम पर जाकर लोग मांग कोरोना से बचने की मन्नत

राम मिश्रा
अमेठी.
कोरोना वायरस का ख़ौफ़ लगातार बढ़ता जा रहा है।अमेठी जिले के ग्रामीण भी इस वायरस के कारण सहम गए हैं। लोग देवी देवताओं की शरण में जाकर इस बीमारी से बचने का आग्रह कर रहे है।मुसाफिरखाना विकास खण्ड अंतर्गत गाँव के ग्रामीणों ने मां महाकाली से इस बीमारी से बचाने की फरियाद की।

बता दे कि जिले के मुसाफिरखाना विकासखण्ड के पूरे पंडा रंजीतपुर गाँव के ग्रामीणों ने ड्यूहारिन माता(ग्राम देवी) की पूजा अर्चना कर पूरे देश को कोरोना वायरस से मुक्त करने व देश में सुख शांति के लिए आग्रह की।

ग्रामीणो के मुताबिक  ड्यूहारिन माता के इस चबूतरे पर करीब 1100 वर्ष पुराना नीम का पेड़ स्थित है। इस पेड़ को लेकर ग्रामीणों में अपार श्रद्धा है और गांव का कोई भी शुभ कार्य ड्यूहारिन माता की पूजा से शुरू होता है,वर्षो पूर्व इस पेड़ के तले पंचायते लगती थी और यही पर विवादों का निपटारा हो जाता था।गांव वासी आज किसी प्रकार के संकट से निजात पाने के लिए ड्यूहारिन की पूजा करते है।युवा समाजसेवी अमरेश मिश्र का कहना है कि देश आज कोरोना वायरस से जूझ रहा है देश मे कोरोना के खात्मे और व गांव में सुख शांति के लिए ड्यूहारिन माता की पूजा अर्चना की गई।

इसी गाँव के निवासी बीजेपी मुसाफिरखाना मंडल अध्यक्ष डॉ महेंद्र मिश्र,पंडित बृंदा प्रसाद मिश्र,सुरेंद्र मिश्र 'गुरु जी',मोहन साईं आदि ने बताया क्षेत्र में सुख शांति के लिए माता रानी की पूजा अर्चना की गई। इस दौरान मास्क का प्रयोग व सोशल डिस्टेंसिंग का खासा ध्यान रखा गया।वही ग्राम प्रधान प्रतिनिधि 'विशाल शर्मा' का कहना है कि इस गाँव के लोगों को ड्यूहारिन माता में अपार श्रध्दा है।और ग्राम पंचायत के लोगों मास्क,सुरक्षित दूरी और भीड़ न लगाने के लिए बताया जा रहा है।
1100 वर्ष पुराने नीम पर जाकर लोग मांग कोरोना से बचने की मन्नत 1100 वर्ष पुराने नीम पर जाकर लोग मांग कोरोना से बचने की मन्नत Reviewed by UPUKLive Desk on 5/21/2020 12:28:00 PM Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.