अर्थव्यवस्था में जान फूंकने के लिए RBI करेगा 50 हजार करोड़ का निवेश


मुंबई। कोरोना वायरस महासंकट से जूझ रही अर्थव्यवस्था में जान फूंकने के लिए शुक्रवार को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की ओर से बड़े ऐलान किए गए। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने रिवर्स रेपो रेट में 0.25 फीसदी की कटौती के साथ बाजार में नकदी संकट ना आए इसके लिए भी 50 हजार करोड़ रुपये की अतिरिक्त मदद की बात कही।
आरबीआई गवर्नर ने कहा कि नकदी संकट को दूर करने के लिए बैंक की तरफ से बाजार में 50 हजार करोड़ रुपये का निवेश किया जाएगा, ताकि नकदी में किसी तरह की कमी ना आए। इसके लिए टीएलटीआरओ का ऐलान किया गया है। आरबीआई गवर्नर की ओर से कहा गया कि बैंकों की ओर से कर्ज मिलने में आम आदमी को कोई दिक्कत नहीं आएगी। इसके अलावा बैंक की ओर से नाबार्ड, एनएचबी, एनबीएफसी समेत अन्य क्षेत्रों में भी 50 हजार करोड़ की अतिरिक्त मदद दी जाएगी, ताकि नीचे तक मदद पहुंच सके।
आरबीआई गवर्नर ने कहा कि इस वक्त 150 से अधिक अधिकारी लगातार चरनटीन होकर भी काम कर रहे हैं और हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं. शक्तिकांत दास ने कहा कि आईएमएफ ने इस बात का अनुमान लगाया है कि दुनिया में सबसे बड़ी मंदी आने वाली है, जो कि खतरे की घंटी है. कई देशों में आयात और निर्यात में भारी गिरावट देखने को मिली है।

अर्थव्यवस्था में जान फूंकने के लिए RBI करेगा 50 हजार करोड़ का निवेश अर्थव्यवस्था में जान फूंकने के लिए RBI करेगा 50 हजार करोड़ का निवेश Reviewed by UPUKLive Desk on 4/17/2020 03:42:00 PM Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.