डर और सामाजिक मापदंड़ो से मुक्ति चाहिए, जो मेरे विचारो को प्रतिबंधित करते हैं : निहारिका रायजादा

टोटल धमाल की एक्ट्रेस निहारिका रायज़ादा कहती हैं, इस साल उन्हें उम्मीद है कि उन्हें डर और सामाजिक मापदंडों से आज़ादी मिले, जो उनके विचारों को प्रतिबंधित करती हैं।
निहारिका मुंबई में 'द परफेक्ट मर्डर' नामक लघु फिल्म की विशेष स्क्रीनिंग के दोरान मीडिया से बातचीत की। इस स्क्रीनिंग पर निर्देशक विक्रम चंद्रिरमानी और सह-कलाकार, रोहन गंडोत्रा, सामवेद सुवालका भी मौजूद थे।
हाल ही में हमने अपना गणतंत्र दिवस सेलेब्रेट किया था, और इसी अवसर पर पूछे जाने पर कि वह 2019 में किस तरह की आजादी चाहती हैं, उन्होंने कहा, "मैं भय और अपने विचारों को प्रतिबंधित करने वाले सामाजिक मापदंडों से आज़ादी पाना चाहती हूँ ।"
विक्रम चंद्रिरमानी द्वारा निर्देशित लघु फिल्म 'द परफेक्ट मर्डर' में रायजादा एक नेगेटिव किरदार के रूप में नजर आएंगी।
शोर्ट फिल्म के लिए काम करने के बारे में बात करते हुए, निहारिका ने कहा, "मुझे विक्रम सर और रोहन और सामवेदना के साथ काम करने में बहुत मज़ा आया। यह पहली बार हुआ है की जब मैंने एक डार्क करैक्टर निभाया है इसलिए यह एक शानदार अनुभव था।"
‘द परफेक्ट मर्डर’ एक शहरी क्राइम ड्रामा है, जिसमें रोहन गंडोत्रा, सामवेदना सुवालका, निहारिका रायज़ादा और दीपक दरयानी शामिल हैं।
निहारिका बहुत ही जल्द इंद्र कुमार द्वारा निर्देशित “टोटल धमाल” में नजर आएगी। इस फिल्म में अनिल कपूर, अजय देवगन, रितेश देशमुख, अरशद वारसी, माधुरी दीक्षित और कई सितारे हैं।
फॉक्स स्टार स्टूडियोज़ द्वारा प्रस्तुत, 'टोटल धमाल' अजय देवगन फिल्म्स, अशोक ठाकेरिया, मार्कंड अधिकारी और आनंद पंडित द्वारा निर्मित है।

डर और सामाजिक मापदंड़ो से मुक्ति चाहिए, जो मेरे विचारो को प्रतिबंधित करते हैं : निहारिका रायजादा डर और सामाजिक मापदंड़ो से मुक्ति चाहिए, जो मेरे विचारो को प्रतिबंधित करते हैं : निहारिका रायजादा Reviewed by Unknown on 10:11 PM Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.