सांपों से बचने के लिए अजीबो-गरीब प्लान, सर्प शांति यज्ञ कराएगा विभाग

हैदराबाद। नाग-नागिन पर बनी काल्पनिक फिल्मों में आपने देखा होगा कि सांप के डसने के बाद लोग रुढिय़ों में फंसकर इलाज के बजाए तंत्र-मंत्र आदि में जुट जाते हैं। पूजा-हवन आदि का भी इस उम्मीद में सहारा लेते हैं कि सांप लोगों से अब दूर रहेंगे। दरअसल, ऐसा ही मामला सामने आया है आंध्र प्रदेश के दिविसीमा से, जहां पर तकरीबन 100 लोग सांप के डसने की वजह से अस्पताल में भर्ती हैं जबकि दो लोगों की मौत हो चुकी है।

हैरानीवाली बात तो यह है कि आंध्र प्रदेश सरकार के विभाग की ओर से लोगों को ऐंटी वेनम मुहैया कराने एवं सांप के डसने के बाद तुरंत क्या करना चाहिए आदि जरूरी बातें बताने की बजाए यज्ञ का आयोजन कराया जा रहा है।

आंध्र प्रदेश के कृष्णा जिले में स्थित दिविसीमा गांव में सांप द्वारा डसने की वजह से दो लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 100 ग्रामीण अस्पताल में भर्ती हैं। इन तमाम घटनाओं को देखते हुए आंध्र प्रदेश सरकार के एक विभाग की ओर से 29 अगस्त को मोपिदेवी स्थित श्री सुब्रह्मण्येश्वरा स्वामी मंदिर में सर्प शांति यज्ञ का आयोजन कराया जा रहा है।

हौसला बढ़ाने के लिए कराया जा रहा यज्ञ 
ऐंटी-वेनम की उपलब्धता जांचने और सांपों को आवासीय क्षेत्रों से दूर रखने के लिए अभियान चलाने की बजाए कृष्णा जिले के अधिकारियों ने तय किया है कि वह यज्ञ कराएंगे।कृष्णा जिले के डीएम और मैजिस्ट्रेट बी. लक्ष्मीकांतम ने कहा, स्थानीय लोगों के साथ ही एंडॉवमेंट विभाग सर्प यज्ञ का आयोजन कर रहा है। इससे लोगों का हौसला बढ़ेगा। डीएम ने यह भी कहा, अवनीगड्डा में एक शख्स की मौत हुई है जबकि एक अन्य शख्स ने गन्नवरम में सांप के डसने की वजह से दम तोड़ दिया। जुलाई महीने तक लगभग 100 लोगों को सांप द्वारा डसने की घटनाएं सामने आई हैं। विभिन्न कदमों के चलते अब इन मामलों में कमी आ रही है।

15 पुजारी करेंगे सर्प सूक्तम का जाप 
एंडॉवमेंट विभाग के असिस्टेंट कमिश्नर और श्री सुब्रह्मण्येश्वरा स्वामी मंदिर के एग्जिक्यूटिव ऑफिसर एम शारदा ने बताया, सरकार द्वारा स्पॉन्सर्ड यज्ञ कम से कम 15 पुजारियों द्वारा कराया जाएगा। इस दौरान सर्प सूक्तम मंत्रों का जाप किया जाएगा। इसके इतर जिला प्रशासन की ओर से प्रत्येक गांव में सांप पकडऩेवाले दो लोगों को लगाया गया और दो दिनों में उन्होंने 6 सांप पकड़े।

यज्ञ से नहीं खत्म होगी समस्या 
फ्रेंड ऑफ स्नेक सोसायटी के जनरल सेक्रटरी अविनाश विश्वनाथन कहते हैं, इस दिक्कत में सर्प शांति होम (यज्ञ) कराने का कोई मतलब नहीं है। समस्या को जरूरी बातों को ध्यान में रखकर ही हल किया जा सकता है।
सांपों से बचने के लिए अजीबो-गरीब प्लान, सर्प शांति यज्ञ कराएगा विभाग सांपों से बचने के लिए अजीबो-गरीब प्लान, सर्प शांति यज्ञ कराएगा विभाग Reviewed by Unknown on 3:43 PM Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.